Take a fresh look at your lifestyle.

चुनावी साल में नयी घोषणा : बुजुर्गों को हवाई जहाज से तीर्थ दर्शन कराएगी सरकार, पढ़िए ये खबर

0 89

[ad_1]

भोपाल. मध्य प्रदेश में चुनावी साल में सरकार बुजुर्गों को नयी सुविधा देने जा रही है. वो अब बुजुर्गों को हवाई जहाज से तीर्थ यात्रा कराएगी. तैयारी पूरी हो चुकी है. बस यात्रा शुरू होने की देर है. नये साल के साथ ही सरकार नये प्लान पर काम शुरू कर देगी.

शिवराज सरकार अब बुजुर्गों को हवाई यात्रा के जरिए तीर्थ दर्शन कराने की तैयारी में है. राज्य सरकार ने 1 जनवरी को हवाई यात्रा के जरिए 500 बुजुर्गों को रामेश्वरम के दर्शन कराने का प्लान तैयार किया है. इसके बाद ये सिलसिला शुरू हो जाएगा. हवाई यात्रा के जरिए बुजुर्गों को वैष्णो देवी के भी दर्शन कराए जाएंगे.

1 साल में डेढ़ सौ नई ट्रेन
मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार अगले 1 साल में डेढ़ सौ नई ट्रेन चलाकर बुजुर्गों को तीर्थ दर्शन कराएगी. इसकी शुरुआत 17 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर होगी. 17 सितंबर को पांच ट्रेनें अलग-अलग धार्मिक स्थलों पर जाएंगी. इसके बाद मध्य प्रदेश के स्थापना दिवस पर 1 नवंबर को 5 ट्रेन तीर्थ दर्शन के लिए रवाना होंगी. प्रदेश सरकार ने ट्रेनों का भी खाका तैयार कर लिया है. 17 नवंबर को भिंड- ग्वालियर- दतिया से काशी, महू-देवास उज्जैन से रामेश्वरम, रीवा-सतना- जबलपुर से तिरुपति, बुरहानपुर- खंडवा- हरदा से वैष्णो देवी, बालाघाट- पांढुर्ना बैतूल से द्वारका सोमनाथ के लिए ट्रेन जाएंगी.

9 सितंबर को करें आवेदन
तीर्थयात्री 9 सितंबर को आवेदन कर सकेंगे. राज्य सरकार ने तीर्थ दर्शन योजना के तहत  सितंबर में रवाना होने वाली ट्रेनों के लिए ग्वालियर, भिंड, दतिया, उज्जैन, देवास, इंदौर, जबलपुर, सतना, रीवा, बुरहानपुर, खंडवा, हरदा, बालाघाट, छिंदवाड़ा, बैतूल के कलेक्टरों को निर्देश जारी किए हैं.

ये भी पढ़ें- एमपी में सड़क दुर्घटनाओं में एक साल में मारे गए 12 हजार लोग, रफ्तार बनी मौत का कारण
ये लोग जा सकते हैं यात्रा पर
मध्य प्रदेश के वरिष्ठ नागरिक जो 60 साल से ज्यादा उम्र के हैं और आयकर दाता नहीं है वो सरकार की इस तीर्थ दर्शन योजना के तहत तीर्थ स्थल पर जा सकते हैं. तीर्थयात्रियों को तुलसी माला और स्मृति चिन्ह दिए जाएंगे. तीर्थ यात्रियों के लिए ट्रेन में भजन मंडली की व्यवस्था और भजन संध्या का भी आयोजन होगा. ट्रेन जिन जिन स्टेशनों से शुरू होगी वहीं पर आकर खत्म होगी. हर ट्रेन में 1000 यात्री जा सकेंगे.

बड़े वोट बैंक पर नजर
मतलब साफ है कि अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सरकार अपनी सबसे बड़ी तीर्थ दर्शन योजना के तहत बुजुर्गों को तीर्थ स्थल पर ले जाकर एक बड़े वोट बैंक को साधने की तैयारी में है. कोरोना काल में तीर्थ दर्शन योजना पर ब्रेक लग गया था. लेकिन अब सरकार इसे जोर-शोर से शुरू कर रेल यातायात के साथ ही हवाई यात्रा के जरिए भी बुजुर्गों को धार्मिक स्थल पर ले जाने की तैयारी में है.

Tags: Madhya pradesh latest news, Shivraj government

[ad_2]

Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.