Take a fresh look at your lifestyle.

बुजुर्ग ने चंबल नदी में लगाई डुबकी और हाथ में आया काला सांप; गले में डाला और फिर…

0 93

[ad_1]

श्योपुर. आपने शरीर में देवीय शक्ति आने से लेकर भूत-प्रेत आदि से जुड़ी आस्था और अंधविश्वास की कई कहानियां सुनी होंगी. कई धार्मिक स्थानों पर लोगों को हिलते-डुलते और तमाशा करते हुए भी देखा होगा. लेकिन, ऐसा नजारा शायद ही कहीं देखा होगा, जहां भोपा (जो दावा करता है कि उसके शरीर में देव आते हैं) नदी में डुबकी लगाता हो और काला सांप बाहर निकल आता हो. उसके बाद भोपा काले सांप को अपने गले में डाल लेता हो और पानी से निकलकर चलने लगतो हो. मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में दिखाई दिए इस अजीबो-गरीब नजारे के सैकड़ों प्रत्यक्षदर्शी हैं. यह नजारा बाकायदा कैमरे में भी कैद हुआ.

यह घटना श्योपुर जिले के सांमरसा गांव में हर साल घटती है. कहा जाता है कि यह घटना तेजा दशमी के दिन आयोजित होने वाले मेले के दौरान घटती है. दावा किया जाता है कि यहां स्थित मां काली मंदिर के पुजारी 72 साल के कालू पटेल के शरीर में देवीय शक्ति आती है. इस बार भी ऐसा हुआ. मंगलवार को जैसे ही उनके शरीर में देवीय शक्ति आने का दावा किया गया, वैसे ही लोगों ने धूप, दीप, झंडा लेकर जय-जयकार करते हुए बुजुर्ग कालू पटेल को चुनरी ओढ़ाई. उसके बाद सब उनके साथ-साथ चंबल नदी की ओर चल दिए. नदी पर पहुंचते ही बुजुर्ग कालू पटेल उसमें डुबकी लगाने चले जाते हैं.

सैकड़ों की संख्या में आते हैं भक्त
जैसे ही कालू पटेल डुबकी लगाते हैं, वैसे ही एक काला सांप नदी के पानी से बाहर निकल आता है. इस सांप को बुजुर्ग हाथ से पकड़ कर अपने गले में डाल लेते हैं और जय-जयकार के बीच नदी से मंदिर वापस लौट जाते हैं. यह सारा नजारा न्यूज18 की टीम के कैमरे में भी कैद हुआ. बताया जाता है कि पानी से काला सांप निकलने की यह घटना हर साल तेजा दशमी के दिन होती है. इस मौके पर सैकड़ों श्रद्धालु यहां आते हैं. लोग इसे आस्था का प्रतीक मानते हैं.

क्या कहता है विज्ञान
दूसरी ओर, विज्ञान के जानकार शरीर में देवीय शक्ति आने की बात को पूरी तरह से नकारते हैं. वह इस तरह की दावों को अंधविश्वास मानते हैं. हालांकि, हर साल तेजा दशमी पर नदी से निकलने वाले काले सांप की घटना को लेकर कोई ज्यादा कुछ नहीं बता पाया है. इस बारे में साइंस एक्सपर्ट विनोद परिहार का कहना है कि देवी-देवताओं के प्रति आस्था रखना एक अलग बात है लेकिन, शरीर में देवीय शक्ति आना संभव नहीं. विज्ञान इसे नहीं मानता.

Tags: Mp news, Sheopur news

[ad_2]

Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.