Take a fresh look at your lifestyle.

सिद्धारमैया ने कटका अस्पताल में आईसीयू में हुई मौतों के लिए सरकार को जिम्मेदार ठहराया | Siddaramaiah blames the government for the deaths in ICU at Katka Hospital

0 96

[ad_1]

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरु। कर्नाटक सरकार ने विजयनगर आयुर्विज्ञान संस्थान (वीआईएमएस) में बिजली गुल होने से इनकार किया है, जहां आईसीयू वार्ड में हुई दो मौतों का कारण बताया गया था। कर्नाटक सरकार ने गुरुवार को आश्वासन दिया कि वह मामले की जांच के बाद एक रिपोर्ट सौंपेगी। बेल्लारी के वीआईएमएस अस्पताल में बुधवार को बिजली कटौती के दौरान आईसीयू वार्ड के दो मरीजों की मौत हो गई थी। अस्पताल और जिला अधिकारियों ने मौत के लिए चिकित्सीय कारणों को जिम्मेदार ठहराया, वहीं मरीजों के परिजनों और विपक्षी दलों का आरोप है कि करीब तीन घंटे तक गुल हुई बिजली के कारण मौतें हुईं।

विधानसभा में विपक्ष के नेता सिद्धारमैया ने इस मामले को उठाया था, जिन्होंने सरकार की लापरवाही को मरीजों की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया था। उन्होंने जिला प्रशासन और राज्य सरकार पर सीधा आरोप लगाते हुए कहा, सुबह 8 बजे से 10.30 बजे के बीच बिजली कटौती के दौरान जनरेटर काम नहीं कर रहा था। बिजली की आपूर्ति और न ही जनरेटर के कारण आईसीयू के मरीजों की मौत हो गई। परिणामस्वरूप वेंटिलेटर काम नहीं कर रहा था। हालांकि, बल्लारी के जिला मंत्री बी. श्रीरामुलु ने यह बताते हुए कहा कि अस्पताल में 3 घंटे का एक संयुक्त यूपीएस और जनरेटर पावर बैकअप है, जिससे आईसीयू की मौत बिजली की विफलता के कारण नहीं हुई थी।

मंत्री ने बताया कि, 35 वर्षीय मौला हुसैन को 11 सितंबर को सुबह 9.30 बजे गुर्दे और अन्य पुरानी समस्याओं के साथ आईसीयू में भर्ती कराया गया था, लेकिन 14 सितंबर को उसकी मृत्यु हो गई। 30 वर्षीय चित्तम्मा को सांप के काटने के इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। ये दोनों मौतें बिजली की विफलता के कारण नहीं थीं। सिद्धारमैया ने मौतों की जांच और पीड़ितों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की।

 

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

[ad_2]

Source link

Leave A Reply

Your email address will not be published.